सरकारी योजना महिला एवं बाल विकास मंत्रालय Ministry of women and child development सुकन्या समृद्धि योजना बेस्ट जानकारी 2024

सरकारी योजना माता पिता या सरंक्षक को कन्याओं के लिए बचत को बढ़ावा देने तथा अपनी अधिकत्म बचत को इसमें जमा करने के लिए प्रेरित करें हेतु सुकन्या समृद्धि योजना को आरंभ किया गया है l सरकार ने छोटी बचत को प्रोत्साहन देने के लिए बालिकाओं को विषेष जमा योजना सुकन्या समृद्धि का शुभारभ किया यह एक अल्प बचत योजना है जो बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का भाग है, इसकी ब्याज दर बैंकों द्वारा दी जाने वाली सामान्य बचत दर से अधिक है जो वर्तमान में 7.6/प्रतिशत वार्षिक है l सुकन्या समृद्धि खाता बालिका के माता पिता या सरक्षक द्वारा बालिका के नाम से उसके जन्म से 10/वर्ष की आयु होने तक खोला जा सकेगा l

सुकन्या समृद्धि किसी भी डाकघर अथवा अधिकृत बैंक शाखा में खुलवाया जा सकता है, जमाकर्ता बालिका के नाम से केवल एक ही खाता खोल और संचालित कर सकता है, माता पिता या सरक्षक केवल दो बालिकाओं के लिए खाता खोल सकते हैं, जुड़वां बच्ची के संबध में प्रमाण प्रस्तुत करने पर तीसरा खाता खोलने की अनुमति दी जाएंगी यह खाता 250/योजना की शुरूआत में यह राशी ₹1000/थी l

की प्राराभिक जमा राशी से खोल जाएगा और एक वित्तीय वर्ष में इसमें न्यूनतम ₹250/और अधिकत्म ₹1.50.000/जाम किए जा सकेंगे खाते में राशी खाता खोलने की तारीख से पंद्रह वर्ष पूर्ण होने तक जमा की जा सकेगी l

Table of Contents

सरकारी योजना

यदि खाते में न्यूनतम राशि जमा नहीं की गई है, तो न्यूनतम जमा राशि सहित ₹50/प्रतिवर्ष के जुमाने के साथ खाते को नियमित कराया जा सकेगा l

खाता बालिका के दस वर्ष की आयु पूर्ण करने तक माता पिता द्वारा खोला और संचालित किया जाएगा बालिका के दस वर्ष आयु प्राप्त,

करने के पश्चात वह स्वयं खाता संचलित कर सकेंगी खाता भारतवर्ष में कही भी अंतरित स्थानातरित किया जा सकेगा बालिका के अठारह

वर्ष की हो जाने पर उसे खाते से जमा राशि के 50/प्रतिशत तक की राशि निकालने की अनुमति मिलेंगी खाते में जमा संपूर्ण राशि और

ब्याज राशि खाते के 21/वर्ष पूर्ण होने पर निकली जा सकती है, हालांकि बेटी का विवाह 21/वर्ष की अवधि पूरी होने से पहले हो जाता हैं,

सरकारी योजना

तो विवाह की तारीख, के पश्चता खाते के संचालन की अनुमति नहीं दी जाएगी वहीं दूसरी ओर 21/वर्ष से पहले बेटी की दशा में खाता बंद

हो जाएगा और जमा राशि एवं ब्याज अभिभावकों द्वारा निकाला जा सकता है, इस योजना के तहत खाते में जमा राशि पर वर्ष भरता सरकार की ओर से ब्याज दरों की घोषणा की जाएगी l

इस योजना के तहत खुलने वाले खातों को आयकर कानून की धारा 80/सी के तहत कर छूट दी जाएगी इसके साथ ही इस योजना के

की परिपक्वता पर मिलने वाली राशि और इसके ब्याज पर भी टैक्स छूट दी गई है,

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना

भारत सरकार ने 2014/15/के बजटीय में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ (BBBP) योजना की पोषणा की थीं l 22/जनवरी,2015/को

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कब शुरू हुआ हरियाणा के पानीपत से ओप चारिक रूप से योजना प्रारंभ की गईl

सरकारी योजना

इस योजना का उद्देश्य अल्प बाल लिंगा नुपाता में सुधार लाने बालिकाओं की शिक्षा के महत्त्व को बढ़ाने तथा महिलाओं एवं बच्चों से

संबधित विभिन्न नीतियों कार्यक्रमों और विधानों के गठन द्वारा बालिकाओं को शिक्षित करने के लाभ लोगों को अवगत कराना है,

प्रमुख बिंदू

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के तहत निम्न अन्य कार्य किए जा रहे हैं, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का लाभ वर्तमान स्थिति पर

सूझ बूझ अंतर्दृष्टि प्रदान करना तथा जागरूकता लाना बुनियादी स्तर के कार्यकंताओ के लिए साधन प्रदान करना गिरते बाल लिंगानुपात

के वर्तमान, ओकड़ो में सुधार लाना बालिकाओं की शिक्षा और सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए बुनियादी स्तर के कार्यकंताओ के

प्रशिक्षण के लिए एक मॉड्यूल के विकास की व्यवस्था भी इस योजना के तहत शामिल हैं,

उत्कृष्ट प्रशिक्षकों के लिए मंडयूल तैयार करने का कार्य निपासिड नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक को अंपरेशन एंड चाइल्ड डेवल पेमेंट को सौप गया है,https://janavicomputercourse.com/2024/03/%e0%a4%ad%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a4%a4-%e0%a4%b8%e0%a4%b0%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b0-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%b8%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%9c%e0%a4%a8%e0%a4%be%e0%a4%8f%e0%a4%82/

ध्यातव्य है, कि निपासीड आई सी डी एस और आई डी पी एस कार्यकंत्राओ के प्रशिक्षण के लिए एक शीर्ष निकाय हैं,

बुनियादी स्तर के कार्यकर्ता जैसे आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ए ए न एम आशा समुदाय इस योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ उध्देस माध्यम बनेंगे,

भारत सरकार की योजनाएं,

जननी सुरक्षा योजना

भारत सरकार ने 1/जून,2111/को जननी सुरक्षा योजना को लॉन्च किया सभी राज्यों और संघ राज्य क्षेत्रों ने इसे लागू कर दिया है,

इसका उद्देश्य संस्थागत प्रसव में होने वाले अधिक खर्च की गर्भवती महिलाओं के संस्थागत प्रसव न कराने का एक प्रमुख कारण है,

इसके साथ ही गर्भवती महिलाओं और बीमार नवजात शिशुओं को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करना भी इसका उद्देश्य है,

गर्भवती महिलाओं को लाभ

नि शुल्क और शून्य व्यय पर प्रसव तथा सिजेरियन सेक्शन नि शुल्क आवश्यक नैदानिक Diagnostic जैसे रक्त परीक्षण और अल्ट्रा सोनोग्राफी आदि स्वास्थ्य संस्थानों में रहने के दाैरन नि शुल्क आहार समान्य प्रसव के लिए 3/दिन तक और सिजेरियन सेक्शन के लिए 7/दिन

नि शुल्क रक्त की व्यवस्था घर से स्वास्थय संस्थानों तक मुफ़्त परिवहन रेफरल के मामले में सुविधाओं के बीच मुफ़्त परिवहन सभी प्रकार, के उपयोगकर्ता शुल्क से छूट l

बीमार शिशुओं के लिए जन्म के एक साल बाद तक पात्रता

नि शुल्क और शून्य व्यय पर उपचार

मुफ्त दवाएं और उपभोग वस्तुएं

नि शुल्क नैदानिक

रक्त का नि शुल्क प्रावधान

घर से स्वास्थ्य संस्थानों तक मुफ़्त मुफ्त परिवहन रेफरल के मामले में सुविधाओं के सुविधाओं के बीच मुफ़्त परिवहन सभी प्रकार के उपयोगकर्ता शुल्क से छूट l

बीबी,बी,पी ,योजना से संबंधित सूचना शिक्षा और संचार IFC सामग्री के प्रसार हेतु गुड्डी गुड्डा बालिका बालक बर्ड का प्रयोग किया जाएगा l

जिसके माध्यम से सभी स्तरों पर कार्यालयों में बालक बालिका के जन्म संबधी लिंग आधारित डेटा प्रदर्शित किया जाता है, बेटी बचाओ

बेटी पढ़ाओ अभियान

मध्य प्रदेश सरकार की योजनाएं (Madhy pradesh Government Scheme)

महिला सशक्तिकरण संबन्धित योजनाएं

मध्य प्रदेश शासन ने महीला सशक्तिकरण के लक्षय की पूर्ती के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत की है, जो राज्य के

नागरिकों के कल्याण की दिशा में सकारात्मक परिणाम दे रहीं हैं, मध्य प्रदेश शासन द्वारा संचालित प्रमुख योजनाएं निम्नलिखित हैं,

लाडली लक्ष्मी योजना

प्रदेश में/1/अप्रैल.2007/से बालिकाओं के सर्वांगीण विकास एवं हितों के सरंक्षण हेतु महत्त्वाकाक्षी लाडली लक्ष्मी योजना

शुरू की गई है, दिनांक 1/जनवरी,2006/के बाद जन्मी बालिकाओं को इस योजना का लाभ दिया जा रहा है,

इस योजना के तहत बालिका के नाम पंजिकरण के समय से लगातार पांच वर्षो तक ₹6/हज़ार के राष्ट्रीय बचत पत्र अर्थात

कुल ₹30/हज़ार के बाद राष्ट्रीय बचत पत्र बालिका के नाम बालिका के नाम पर खरीदे जाएंगे बालिका के कक्षा 6/में प्रवेश लेने पर

2000, कक्षा 9/में प्रवेश लेने पर ₹4000/और कक्षा 11/में लेने पर ₹ 6000/तथा 12वी कक्षा में प्रवेश लेने पर ₹6000/ई पेमेंट

से भुगतान किया जाएंगे बालिका की आयु 21/वर्ष की होने पर शेष राशि का भुगतान एक मुश्त तभी किया जाएगा जब बालिका

का विवाह 18/वर्ष की आयु के बाद हुआ हो परिवार नियोजन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इस योजना का लाभ ऐसे माता पिता को ही दिया जाता है, जिन्होंने अधिकतम दो लड़कियों के जन्म के पश्चात नियोजन अपना लिया हो

गवां की बेटी योजना

यह योजना वर्ष 2005/में शुरू की गई राज्य सरकार ने इस योजना के द्वारा ग्रामीण लड़कियों को उच्च उपल्ब्ध कराने का प्रयास किया है,

इस योजना के अंतर्गत नवोदय विद्यालय से 12/वी कक्षा में प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण छात्राओं को लाभ मिलेगा इस योजना में बारहवीं पास छात्रा को ₹500/प्रतिमाह की दर से 10/माह तक छत्रवृति शिक्षा के लिए दी जाएगी

तेज स्विनी ग्रामीण महीला सशक्तिकरण कार्यक्रम

महिलाओं को आर्थिक एवं सामाजिक रूप से मजबूत एवं आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से आई, एफ, ए, डी अंतरराष्ट्रीय कृषि विकास कोष परियोजना रोम की मदद से प्रवेश में क्रियान्वित की जा रही है,

मध्य प्रदेश राज्य महीला वित्त एवं विकास निगम द्वारा आर्थिक स्वावलंबन ग्रामीण महीला सशक्तिकरण कार्यक्रम चलाया जा रहा है,

बर्ष 2007/से प्रदेश के छः जिलों डिडोरी मंडला बालाघाट पत्रा छतरपुर और टीकमगढ़ में कार्यक्रम आरंभ किया गया था l

तेज स्वनि योजना के पांच प्रमुख घटक हैं, सामुदायिक संस्था विकास सूक्ष्म वित्त सेवाएं आजीविका वा उद्यमिता और विकास महिला सशक्तिकरण सामाजिक न्याय एवं समानता और प्रोग्राम प्रबंधन l

इस कार्यक्रम का उद्देश्य मजूबत और निरंतर महिला स्व सहायता समूहों तथा उनकी शीर्ष संस्थाओं का गठन वा विकास करना इन समूहों

और संस्थाओं को सूक्ष्म वित्तीय सुविधाओ से जोड़ना और समूहों को बेहतर आजीविका के अवसर तलाशने तथा इनका उपयोग करने के

योग्य बनाना है, कार्यक्रम का एक और उद्देश समूहों को सामाजिक समानता न्याय और विकास की गतिविधियों के लिए सशक्त करना भी है,

जैसे शिक्षा और स्वास्थ्य का प्रबंधन करना कड़ी मजूदरी में कमी लाना पश्चात में पूर्ण भागीदारी देना और महिलाओं के विरूद्ध हिसा और अपराध को समाप्त करना

मुख्यमंत्री निकाह योजना

मध्य प्रदेश शासन द्वारा मुख्यमंत्री निकाह योजना वर्ष 2012/13/से प्रारंभ की गई है, इस योजना के तहत निरंश्रिंत गरीब परिवारों, की,

कन्याओं विधवाओं, परित्यकताओ, के सामूहिक निकाह कराए जाने का लक्षय रखा गया है, इस योजना के तहत कन्याओं को गृहस्थी की

स्थापना हेतु कन्या को ₹ 51.000/की धनराशि दिए जाने का प्रावधान है, इसमें कन्या के लिए 18/वर्ष तथा पुरुष के लिए 21/वर्ष की

आयु सीमा पूर्ण करने की अनिवार्यता है, इस योजना के अंतर्गत अधिकतम आयु सीमा का प्रावधान नहीं रखा गया है,

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना

यह योजना अप्रैल 2006/से शुरू की गई 2015/इस योजना का नाम बदलकर मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना कर दिया गया इस योजना

के अंतर्गत राज्य शासन द्वारा गरीब जरूरतमंत निराश्रित निर्धन परिवारों की विवाह योग्य कन्या विधवा परित्यक्त के लिए ₹51.000/की सहायता की जाती है,

स्वागतम लक्ष्मी योजना

प्रदेश में घटते लिंगानुपात को कम करने तथा इसे रोकने के प्रयास के तहत 24/जनवरी,2014/को यह योजना प्रारंभ की गई है इस योजना के अंतर्गत बालिका के जन्म लेने पर शिशु और माता का सम्मान ग्राम पंचायत वा वार्ड सदस्यों के द्वारा उनके घर जाकर किया जाता है,

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रतियोगी परीक्षाओं के के लिए उपस्थित होने वाले विद्यार्थियों के लिए नि शुल्क कोचिंग योजना प्रारंभ की गई है, उत्तर प्रदेश सरकार की योजनाओं की सूची

यूपी एस सी पी एसी जेईई एन आईआईटी और अन्य परीक्षा उम्मीदवारों को मुफ्त कोचिंग प्रदान करेगी योजना के अंतर्गत राज्य सरकार पत्र्या के आधार पर विद्यार्थियों को टैबलेट प्रदान करेगी ताकि वे डिजिटल शिक्षा के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं की तयारी कर सकें

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना

उत्तर प्रदेश द्वारा गोविड 19/के कारण अपने माता पिता या अभिभावक को खोने वाले अनाथ बच्चों के लालन पालन के उत्तर से इस योजना का शुभारंभ किया गया l

योजना हेतु 0/18/आयु वर्ग के लिए वे सभी बच्चे जिनके माता तथा पिता की मृत्यु कोविड़ 19/के संक्रमण के कारण हो गई हो इसके पत्रा है, बला देखभाल हेतु ₹ 4000/, प्रतिमाह दिए जाएंगे प्रदेश सरकार सभी बालिकाओं के विवाह हेतु,₹1.01.000/की राशि उपलब्ध कराएगी l

उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना

बेटियो के लिए कौन कौन सी योजना चल रही है, उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा के बीपी एल परिवारो जिनकी आय ₹2/लाख से कम है,

की बालिकाओ हेतु उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना प्रारंभ की है, योजना के तहत बेटी के जन्म होने पर उसके खाते में ₹ 50,000/तथा बेटी की जायेगी l

बालिकाओं के लिए अन्य योजनाएं

इसकेे अतरिक्त बेटी के कक्षा 6/पहुंचने पर ₹3000, कक्षा 8/में पहुंचने पर ₹5000/कक्षा 10/में पहुंचने पर ₹7000/तथा कक्षा 12/में पहुंचने पर ₹8000/दिए जाएंगे योजना के अंतर्गत एक परिवार की दो बेटियों को ही यह आर्थिक सहयाता प्राप्त होगी l

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना हेतु उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बजट 2020/21/में ₹ 12000/करोड़ का प्रावधान किया गया l

इस योजना में बालिकाओं की शिक्षा स्वास्थ्य के स्तर में वृद्धि के साथ बालिकाओं की भ्रूण हत्या को रोकने का उद्देश्य शामिल किया गया l यह योजना 1/अप्रैल,2019/से संचालित की जा रही है l

मुख्यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना

महिलाओं एवं बच्चों के कुपोषण की समस्या को दूर करने हेतु वित्तीय वर्ष 2021/22/से उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना आरंभ की जाएंगी l इस योजना के अंतर्गत ड्राई राशन के साथ साथ आंगनबाड़ी केंद्रों पर पंजीकृत 6/माह से 5/वर्ष तक के चिहिंत

कुपोषित, बच्चों तथा एनीमिया ग्रस्त 11/14/वर्ष की स्कूल न जाने वाली किशोरी बालिकाओं को अतिरिक्त पोषण प्रदान किया जाएगा इस योजना हेतु ₹100/करोड़ की राशि बजट में प्रस्तावित है,

मुख्यमंत्री महिला सामर्थ्य योजना

ग्रामीण अंचलों में महिला दुग्ध उत्पादकों के स्वयं सहायता समूहों की आजीविका में वृद्धि एवं संवधर्धन हेतु वित्तीय वर्ष 202122/से महिला

सामर्थ्य से महिलाओं की आर्थिक स्थिति में सुधार कर उन्हें अतनिर्भर बनाने का प्रयास किया जाएगा इसके अंर्तगत राज्य में महिला शक्ति केंद्रों की स्थापना की जाएगी

मुख्यमंत्री नारी शक्ति योजना

इसके अंतर्गत महिलाओं के सामाजिक आर्थिक एवं सांस्कृतिक सशक्तिकरण एवं नवाचारी योजना के निमित विभीन्न योजनाओं के संचालन, की स्वीकृति प्रदान की जाती है, बिहार सरकार की योजनाएं

महिला एवं विकास संबंधित योजनाएं

इसके तहत अनौतिक कदाचार एवं घरेलू हिसा से पीड़ित किशोरियों एवं महिलाओं के लिए विषेश योजनाएं बनाई गई हैं,

महिला विकास निगम द्वारा संचालित इस योजना के द्वारा स्वयं सहायता समूहों का गठन पोषण तथा क्षमता निर्माण का कार्य प्रखंड स्तरीय

सरकारी समितियों के गठन आदि का कार्य कराया जाता हैं, इस योजना का लाभ गांवों की महिलाओं मुख्यत, कमजोर और वर्चित समुदाय, से जुड़ी महिलाओं को मिल रहा है l

मुख्यमंत्री बालिका प्रोत्साहन योजना

इस योजना के तहत बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित दसवीं कक्षा की परीक्षा में प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण होने वाली सामान्य कोटि एवं पिछड़ा वर्ग BC II, की छात्राओं को ₹10.000/प्रति छात्रा प्रोत्साहन स्वरूप धनराशि उपलब्ध कराई जाती है,

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना

इसका उद्देश्य गरीब परिवारों को विवाह के समय आर्थिक सहायता प्रदान करना तथा बाल विवाह को हतोत्साहित करना है,

इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को विवाह के समय ₹5000/की आर्थिक मदद दी जाती है, भुगतान कन्या के नाम पर चेक डिमांड ड्राफ्ट के द्वारा योजना के लाभ हेतु माता पिता की वार्षिक आय का ₹60.000/से कम होना आवश्यक है,

मुख्यमंत्री, कन्या सुरक्षा योजना

इस योजना का उद्देश्य भ्रूण हत्या को रोकना जन्म का पंजिकरण करना तथा क्रन्या जन्म को प्रोत्साहित करना है,

इसके तहत गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों में जन्म लेने वाली कन्या को जन्म के समय ₹2000/की राशि को यू, टी, आई, के

चिल्रडेन करियर बैलेंस्ड प्लान में कन्या के नाम से निवेश कर प्रमाणपत्र उपलब्ध करवाया जाता हैं, परिपक्वता मूल्य की राशि का भुगतान कन्या के 18/वर्ष पूर्ण होने पर किया जाता हैं,

आरक्षित रोजगार महिलाओं का अधिकार

आरक्षित रोज़गार महिलाओं का अधिकार के अंतर्गत महिला सशक्तिकरण मुहिम को आगे बढ़ाते हुए राज्य सरकार द्वारा सभी सेवा संवगों की सीधी नियुक्ति में महिलाओं के लिए 35/प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण की व्यवस्था को लागू किया गया है l

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना

सरकार ने इस योजना के तहत स्नातक पास करने वाली प्रत्येक छात्रा को ₹25.000/देने की घोषण की गई है,

इस योजना को आर टी एस राइट टु सर्विस कानून में शामिल किया जाएगा l

इसके तहत किसी बालिका को उसके जन्म लेने से लेकर स्नातक करने तक ₹54.100/दिए जाएंगे इस योजना के तहत कन्या का जन्म होने पर ₹2000/दिए जाने का प्रावधान है,

एक वर्ष की आयु पूर्ण करने तथा आधार से लिंक करने पर 1000/दिए जाएंगे दो वर्ष पूर्ण करने तथा संपूर्ण टीकाकरण पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा ₹2000/प्रदान किए जाएंगे l

शिक्षा विभाग द्वारा कक्षा I, II की छात्राओं को पोशाक योजना के तहत प्रतिवर्ष ₹600/कक्षा III,v की छात्राओं की को प्रतिवर्ष

₹700, कक्षा VI VIII की छत्राओ को प्रतिवर्ष ₹1000/में देने का प्रावधान किया गया है, इस योजना से राज्य की लगभग 1.60/करोड़ लड़कियों को फायदा होगा l

अंतर्जतीय विवाह प्रोत्साहन अनुदान योजना

इस योजना का उद्देश्य हिंदू समाज में व्याप्त जाति प्रथा के उन्मूलन हेतु अंतर्जातीय विवाह करने वाली महिलाओं को प्रोत्साहन स्वरूप आर्थिक सहायता प्रदान करना है,

इस योजना के तहत अंतर्जातीय विवाह करने वाली महिला को ₹1,00,000/की राशि अनुदान के रुप में दी जाती है,

जिसका भुगतान विवाह संपन्न होने के तीन महीने के भीतर सबंधित वधू को अधिकतम परिपक्वता राशि देने वाले राष्ट्रीय कृत बैंक में सावधि जमा प्रमाणपत्र के माध्यम से किया जाता है,

किशोरी बालिकाओं के लिए योजना sag

किशोरियों के सर्वांगीण विकास कुपोषण के पीढ़ीगत कुचक्र को तोड़ने एवं जीवन चक्र की रणनीति को स्वस्थ्य बनाने हेतु केंद्र सरकार द्वारा

प्रयोजित योजना सबला बिहार राज्य में वर्ष 2011/12/से 12/जिलों में लागू हैं,

वित्तीय वर्ष 2017/18/में इसका नाम बदलकर किशोरी बालिकाओं के लिए योजना (Scheme for Adolescent Girls SAG)

कर दिया गया एवं इसे केवल 11/14/वर्ष की स्कूल नहीं जाने वाली किशोरियों के लिए सीमित करते हुए राज्य के सभी 38/जिलों में लागू किया गया है,

योजना का मुख्य उद्देश्य किशोरियों को सहयोग प्रदान कर स्वास्थ्य पोषण एवं शिक्षा के स्तर में सुधार करना y, ताकि वे आत्मनिर्भर और जागरूक बन सकें इस योजना के उद्देश्य हैं,

किशोरियों को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाने में सहयोग करना पोषण एवं स्वास्थ्य की स्थिति में सुधार लाना स्वास्थ्य स्वच्छता और पोषण

शिक्षा के द्वारा उन्हें जागरूक बनाना विद्यालय से बाहर की किशोरियों को ओप चारिक शिक्षा तंत्र में पुन वापस लाना अथवा वैकल्पिक

शिक्षा कौशल विकसित करना इनमें गृह आधारित कौशल और जीवन कौशल का विकास करना उपलब्ध लोक सेवाओं जैसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ग्रामीण अस्पताल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डाक घर बैंक पुलिस स्टेशन आदि से संबंधित जानकारी मार्गदर्शन देना l

पोषण मद के अंर्तगत 11/14/वर्ष की स्कूल नहीं जाने वाली किशोरियों को टी, एच, आर, के रुप में चावल, अंडा एवं सोया बड़ी उपलब्ध कराया जाता हैं,

इस हेतु ₹9.50/प्रतिदिन लाभार्थी की दर से 600/कैलोरी एवं 18/20/ग्राम प्रोटीन युक्त पोषक सामग्री माह में 25/दिनों के लिए दी जाती है,

गैर पोषण मद अंर्तगत आयरन फोलिक एसिड संपूर्ण स्वास्थ्य जांच और रेफरल सेवाएं स्वास्थ्य और पोषण शिक्षा विद्यालय से बाहर की किशोरियों को ओप चारिक शिक्षा तंत्र में पुन वापस लाना या वैकल्पिक शिक्षा कौशल विकसित करते हुए मुख्यधारा में लाना

जीवन कौशल शिक्षा गृह प्रबंधन लोक सेवाओं को प्राप्त करने का परामर्श मार्ग दर्शन l

इंद्रा महिला शक्ति निधि

राजस्थान, सरकार की योजनाएं Rajasthan Government Scheme) राजस्थान सरकार ने महिलाओं के सर्वगीण सशक्तिकरण के

उद्देश्य से बजट 2019/20/में ₹1000/करोड़ की राशि के इंदिरा महिला शक्ति निधि के गठन की घोषण की थी l इस निधि का उपयोग

महिलाओं का उद्यम स्थापना के लिए सहयोग आधुनिक अनुसंधान के लिए सहायता कौशल विकास के लिए प्रषिक्षण जागरूकता के लिए

इंदिरा महिला शक्ति निधि प्रोत्साहन योजना

इस योजना को 18/दिसबर,2019/को प्रारंभ किया गया l

उद्देश्य

इंदिरा महिला शक्ति निधि से महिलाओं को उद्यम विनिमिन, सेवा एवं व्यापार की स्थापना अथवा स्थापित उद्यम के विस्तार विविधिकरण बी

आधुनिकीकरण के लिए बैंकों से अनुदानयुक्त स्षत्र उपलब्ध कराकर रोज़गार के लिए नवीन अवसर सुजित किए जाएंगे योजना योजना

की प्रवर्तन की अवधि 18/दिसंबर,2019/से 31/मार्च 2024/तक होगी तथा इसका कार्यक्षेत्र राजस्थान राज्य होगा l

व्यक्तिगत आवेदक की न्यूनतम आयु 18/वर्ष या इससे अधिक होना आवश्यक होगा आवेदक व्यकीतग्त सस्थाथगता का राजस्थान का मूल निवासी होना आवश्यक है,

महिला स्वयं सहायता समूह या इन समूहों के समूह क्लस्टर फेडरेशन का राज्य सरकार के किसी विभाग के अंर्तगत दर्ज होना आवश्यक है,

समूहों के समूह क्लस्टर फेडरेशन को सहकारिता अधिनियम के तहत पंजीकृत होना आवश्यक होगा l

कियानव्यान एजेन्सी

निदेशालय महिला अधिकारिता राज्य स्तर पर इस योजना के क्रियान्वयन एवं पर्यावरण हेतु नोडल एजेंसी होगी l

शिक्षा सेतु

महिला बाल विकास विभाग की ओर से इंदिरा महिला शक्ति प्रषिक्षण एवं कौशल संवर्धन योजना के तहत शिक्षा सेतु योजना शुरू की गई l

इस योजना के तहत प्रत्येक ड्रॉप आउट बालिका की जानकारी जुटाकर उसे पुन, शिक्षा प्राप्त करने में सहायता की जाएगी बालिका के पुन;

शिक्षा से जोड़ने की जिम्मेदारी विभागीय अधिकारियों की होगी बेटियों के लिए कौन कौन सी योजना चल रही है,

साथ ही महिलाओ को राजस्थान स्टेट ओपन स्कूल के माध्यम से नि शुल्क पढ़ाया जाएगा l

इंदिरा महिला शक्ति कौशल समर्थ योजना इसके अंतर्गत 10.000/महिलाओं की कौशल प्रशिक्षण दिया जाएगा l

दोस्तो पोस्ट पढ़ने के बाद कॉमेंट जरुर करें पोस्ट पढ़ने में कैसा लगा धन्यवादj,

भारत सरकार की योजनाएं

FAQ . बेटियों के लिए कौन कौन सी योजना चल रही है,

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कब शुरू हुआ

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना लाभ

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ उद्देश्य

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान

लड़कियो के लिए क्या योजना है,

बालिकाओं शिक्षा योजना राजस्थान

Leave a Comment