CCC computer course syllabus in Hindi best (2024)

कंप्यूटर की पांचवी पीढ़ी 1985/से अब तक CCC computer course syllabus in Hindi Fifth Generation of computer ers,1985/till the Date/

पांचवी पीढ़ी के Computers में VLSI के स्थान पर ULSI Ultra Large scale Integration तकनीक का प्रयोग हुआ

और एक chip द्वारा करोड़ों गणना करना सम्भव हो सका l Storage के लिए CD Compact Disk का विकास हुआ l

CCC computer course syllabus in Hindi

Internet E , mail तथा www world wide web का विकास हुआ इस पीढ़ी में बाहुत शक्ति शाली जैसे super

kompüter kompüteri , Laptop palmtop Computer का विकास हुआ तथा इसी युग में Artificial intelligence को विकसित

करने की भी कोशिश की गई ताकि Computers भी परिस्थिति के अनुसार खुद ही निर्णय ले सकें l

Characteristics of computer

कंप्यूटर ने आज के आधुनिक जीवन में महत्वपूर्ण क्रांति ला दी है l कंप्यूटर ने मानव जीवन के हर क्षेत्र को प्रभावित किया है ,https://janavicomputercourse.com/2024/06/computer-course-syllabus/

यह तीव्र गणन तथा विशाल भंडारण करने वाले इक मस्तिष्क के रुप में कार्य करता है l कंप्यूटर का प्रयोग प्रत्येक क्षैत्र में किया

8k High speed कंप्यूटर के कार्य करने की गति अत्यन्त तीव्र है, वह बड़ी बड़ी तथा जटिल से जटिल गणनाएं कुछ ही

क्षणों में कर देता है तथा विश्व में उपलब्ध सूचनाएं अल्प समय में ही हमें उपलब्ध करा देता है l इससे हमारे समय वा श्रम दोनों

की ही बचत होती है, कंप्यूटर के काम करने की गति इतनी तीव्र होती है कि उसे हम एक सामान्य घड़ी से नहीं नाम सकते इससे

हमारे समय वा श्रम की बचत होती है, साथ ही साथ व्यक्तियों के कार्य करने की क्षमता में भी तीव्रता आती है l

शुद्धता Accuracy यदि कंप्यूटर ऑपरेटर ठीक से काम करता है, तया कंप्यूटर भी क्षतिग्रस्त नहीं है, तो कंप्यूटर गणना करके

जो सूचनाएं देता है, उनमें शत प्रतिशत शुद्धता होती है l उनमें त्रुटि होने की कोई संभावना नहीं होती अंत कंप्यूटर की गणना को

शुद्ध गणना की ज्ञान दी जाती है l

CCC computer course in Hindi syllabus pdf ki

विश्वसनीयता Reliability कंप्यूटर द्वारा किए क्यों गणनाओं तथा दी गई सूचनाओं में शुद्धता अति उच्च होती है इसलिए इनमें

विश्सनीयता भी अधिक होती है, हम बिना दुविधा के कंप्यूटर द्वारा सूचनाओं पर विश्वास कार लेते हैं l कंप्यूटर द्वारा प्रदंत

सूचनाओं के अधार पर ही वैज्ञानिक द्वारा भी बड़े बड़े अविष्कार किए जाते हैं l अंत आज देश भर की विश्सनीयता सोचनाओ को एकमत्र करने का एक मात्र विश्वसनीय साधन कंप्यूटर ही है l

विशाल भंडारण क्षमता Huge Storage Capacity कंप्यूटर में विभिन्न सूचनाओं का भण्डारण करने की अदभुद क्षमता

होती है, कंप्यूटर विभिन्न आंकड़ों सूचनाओं चित्रों आदि का भण्डारण विशाल मात्रा में कर सकता है, यह भंडारण भी बडा

व्यवस्थित संगठित तथा वैधानिक ढंग से होता है फसल जिस किसी आंकड़े सूचना आदि की आवश्यकता होती है,

उसे तुरन्त ही प्राप्त किया जा सकता है l यह आंकड़े हम सीडी तथा फ्लॉपी में डालकर save भी कर सकते हैं l

स्मृति Memory कंप्यूटर की अपनी विलक्षण स्मरण शक्ति होती है, वह पुराने कार्य कार्यक्रमों निर्देशों आंकड़ों

गणनाओं यदि को बखूबी अपनी स्मृति में रख सकता है और आवश्यकता पड़ने पर काम में ले सकता है l

यह स्मृति क्षमता अत्यन्त विशाल होती हैं तथा इसका लाभ हर क्षैत्र के व्यक्ति अपने Documents को save करने हेतु प्रयोग कर सकते हैं,

विविधता Diversity कंप्यूटर विविध कार्य कर सकता है, यह विभिन्न भाषाओं में तथा विभिन्न आकार के अक्षरों में टाइप कर

सकता है, गणाएं कर सकता है, सारणी बना सकता है, ग्राफ बना सकता है, चित्र तथा एनिमेशन कर सकता है, एकाउंटिंग कर

सकता है, आजकल एनिमेशन की बहुत मांग है अंत कुछ फिल्म जैसे जय हनुमान कृष्णा आदि बनाने में विविधता लाने हेतु

कंप्यूटर प्रयोग किया जाता है , CCC computer course syllabus in Hindi

स्वचलकता Automation कंप्यूटर स्वंचलित यन्त्र है l ऑपरेटर कंप्यूटर को चालू करने के बाद जो भी निर्देश कंप्यूटर को

देता है, कंप्यूटर स्वत ही उन निर्देशों का पालन करते हुए ऑपरेटर को वांछित परिणाम उपलब्ध करा देता है l ऑपरेटर को हर कदम पर निर्देश देने की आवश्यकता नहीं पड़ती है l

Basic Application of computer

आज के युग में शायद ही कोई क्षेत्र ऐसा हो जोकि Computer के प्रयोग से अछूता हो अथवा जहां computer का उपयोग

न हो रहा रहा बड़े से बड़े project से लेकर किसी दुकान से लिए गए सामान के बिल तक निकालने में computer का

उपयोग हो रहा है l kआज के जीवन को computer ने जितना Effect किया है, शायद ही किसी अन्य field ने किया हो l

यह कंप्यूटर के मानव जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में होने वाले उपयोगों का अध्ययन करेंगे l

शिक्षा के क्षेत्र में: शिक्षा के क्षेत्र में आज ऐसे अनेक programs तैयार हो चुके हैं, जिनकी मदद से हम शिक्षण को प्रभावी बनाते

हैं , तथा उसका फायदा उठाते हैं l शिक्षा के क्षेत्र कंप्यूटर का बहुत अधिक प्रभाव पड़ा है l शिक्षा के विभिन्न विभाग इसके प्रयोग

से लाभान्वित हो रहे हैं l उदाहरण के लिए पुस्तकालय परीक्षा प्रयोग शाला प्रबंधन कार्य अध्यापन तथा अध्ययन आदि कंप्यूटर

शिक्षा क्षेत्र में जानकारियों का सोत एवं भंडारण स्थान के रुप में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका बनाए हुए हैं, यह शिक्षा प्रबन्धन में

अध्यापन में एवं एक नए विषय के रुप में अपना महत्त्व बना चुका है, CCC syllabus PDF in Hindi

CCC syllabus in Hindi

विज्ञान के क्षेत्र में:Computer का Use जब से वैज्ञानिक कार्यों में होने लगा है तब से हम अनेक नए नए वैज्ञानिक कार्यों को

करने में सक्षम हुए हैं l चूंकि वैज्ञानिक गणनाएं काफी जटिल होती है, जिनको हल करने में काफी समय लगाता है, लेकिन Computer के माध्यम से इन जटिल गणनाओं को कुछ सेकंड में ही हल किया जा सकता है l

कंप्यूटर का प्रयोग भौतिक विज्ञान physics रसायन विज्ञान Chemistry अंतरिक्ष विज्ञान space science मौसम विज्ञान

Weather Forecasting यांत्रिकी विज्ञान Mechanical science भूगर्भ विज्ञान geology तथा परमाणु विज्ञान Atomic science सभी में किया जा रहा है l बहुत से कंप्यूटर को विशेष रूप से वैज्ञानिक अनुसंधान केंद्रों के लिए तैयार किया जाता है l

इनकी सहायता से अनेक महत्वपूर्ण प्रयोगों को करना एवं देखना आदि कार्य किए जा सकते हैं l

CCC computer course syllabus

व्यापार के क्षेत्र में, व्यापार तथा व्यावसाय के क्षेत्र में आज Computer का व्यापक प्रयोग हो रहा है l कंप्यूटर का प्रयोग वित्तीय

मंडल बनाने Financial Modelling में स्टॉक प्रबन्धन Stock Manage ment में साखियकीय विश्लेषण Statistical

Analysis में लेखाकना Accountancy में वेतन सूची Payroll System में अनुरूपन Simulation एवं प्रबन्धन Administration आदि में सफल रुप से किया जा रहा है ,

मनोरंजन के क्षेत्र में,Computer हमारे मनोरंजन का भी साधन CCC computer course syllabus in Hindi है,

अनेक Computer games आज विकसित हो चुके हैं, तथा Multimedia तथा speakers की मदद से हम संगीत भी सुन सकते हैं, यदि कंप्यूटर में इंटरनेट सुविधा है तो विभिन्न विषयों पर जानकारी ली जा सकती है, समाचार पत्र पढ़े जा सकते हैं l

चैट की सहयता से दूर दराज के संबंधियों एवं मित्रों से बता चीता की जा सकती है l

बैंकिग एवं वित्तीय संस्थानों में

बैंकिंग एवं वित्तीय संस्थानों के लिए कंप्यूटर एक महत्पूर्ण अंग बन चूका है, बैंकों में इसका प्रयोग खाताधारकों के खाते से सम्बन्धित जानकारी रखने में धनराशि को निकालने एवं जमा करने में क्षत्र सम्बन्धित प्रक्रिया एवं अन्य रिपोर्ट बनाने में किया

जाता है l इसके अतिरिक्त रिकॉर्ड रखने में शेयरों के लेन देन में धन हस्तांतरण पद्धति में भी कंप्यूटर का प्रयोग किया जाता है l

स्वास्थ्य क्षेत्र में, कंप्यूटर के माध्यम से स्वास्थ्य जगत में बीमारियों की रोकथाम के लिए पूरे विश्व में अनुसंधान किए जा रहे हैं l

डेस्कटॉप पब्लिशिंग के क्षेत्र में, प्रकाशन क्षेत्र में कंप्यूटर द्वारा पुस्तकों या पेज का ले आउट डिजाइन कर सकते हैं l प्रकाशन के

लिए काफ़ी सॉफ्टवेयर बाजार में उपलब्ध है, जिनकी सहायता से कम समय में कंप्यूटर द्वारा प्रोजेक्ट रिपोर्ट पत्र तथा पुस्तकों

के पृष्ठों को आसानी से तैयार किया जा सकता कंप्यूटर द्वारा प्रकाशन कार्य कम समय में एवं न्यूनतम लागत में किया जा सकता है l

संचार के क्षेत्र में, कंप्यूटर ने संचार क्षेत्र में क्रांति ला दी है, इसकी सहायता से दुनिया के किसी भी व्यक्ति से सैंकड़ों में सम्पर्क

स्थापित किया जा सकता है l चाहे वह कहीं भी हो इसके अतिरिक्त किसी भी प्रकार की जानकारी का आदान प्रदान किया जा

सकता है l कंप्यूटर नेटवर्क के वृहत रुप इंटरनेट द्वारा दुनिया के किसी भी विषय या स्थान की जानकारी ली जा सकती है l

क्योंकि यह असीमित जानकारियों का भण्डार है l

यातायात के क्षेत्र में, यातायात के क्षेत्र में कंप्यूटर का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान है l वास्तव में यातायात के क्षेत्र में हुई चमत्कारिक प्रगति के पीछे Computer की बहुत अहम भूमिका दिखाई देती है l यातायात के क्षेत्र में कंप्यूटर का

उपयोग मुख्य तौर पर रेल यातायात हवाई यातायात सड़क यातायात आदि कार्यों में किया जा रहा है l

औधोगिक क्षेत्र में,

आज विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों में कंप्यूटर के उपयोग से कार्य करना बहुत ही आसान हो चुका है l आज सिर्फ कंप्यूटर

की वजह से विभिन्न उद्योगों में जटिल मशीनों का पूर्ण कंप्यूटर कारण किया जा चुका है,

जिसकी वजह से वह मशीनों पूर्णत स्वचालित हो चुकी है और इसी कारण उन मशीनों से दिन रात कार्य लिए जा रहा है l

तथा इस कार्य के लिए किसी विशेष Main power की जरूरत भी खत्म हो चुका है l उद्योगों में कंप्यूटर के उपयोग की वजह

से product की गुणवता Quality बढ़ जाती है तथा waste बचने वाले मल scrap washing की भी मात्रा कम से कम हो

जाती है l कुछ प्रमुख उधोग जिनमें Computer उत्पादन में अनेक प्रकार से सहायता कर रहा है, कागज एवं छपाई paper and printing स्टील steel

खेल के क्षेत्र में,

Geme विकसित किए जा वास्तव में लम्बे चौड़े मैदानों में खेले जाते हैं, जैसे क्रिकेट हांकी टेनिस पोलो फुटबाल आदि l

उपर्युक्त बताए गए क्षेत्री के अलावा भी Computer का Use बहुत से क्षेत्रों में किया जा रहा है, जैसे किसी भी परीक्षा को

Conduct कराने में एक भाषा का अनुवाद किसी दूसरी भाषा में करने में पुस्तकालयों का प्रबन्धन स भालने में आदि l

Components of computer

कोई भी Computer जोकि Use किया जा रहा हो की मूल सरचना Basic Anatomy हमेशा इक ही तरफ की होती है l

किसी भी Computer की सरंचना में चाहे वह छोटा हो या बड़ा पुराना हो या नया निम्न भाग होते हैं l

Control Unit/

A.L.U/Arithmetic and Logic unit

Main Memory

Secondary Memory

Input Devices and Output Devices

यहां Input Unit के द्वारा Raw Date को Computer में प्रविष्ट कराया जाता है तथा उस Raw Date को A,L,U, या

Arithmetic and Logical Unit के द्वारा process कराया जाता है, वास्तव में A,L,U, ही C,P,U, का वह प्रमुख भाग है,

जो Data को process कराता है, सारी अंकगणितीय क्रियाओं Arithmetic calculation तथा तकरीक गणनाओं Logical Calculations के लिए A,L,U, ही जिम्मेदार होता है ,

A,L,U, द्धारा Data ग्रहण करने के बाद उसे Memory में उचित स्थान पर Store कर दिया जाता है तथा आवश्यकतानुसार,

Memory में Stored Data को लेकर Control unit के निर्देशानुसार Data पर विभिन्न,process किए जाते हैं, तथा Result को uotput unit को भेज दिया जाता है l

CCC computer course syllabus

Main or Internal Memory A,L,U, तथा Control unit को सम्मिलित रुप से C,P,U, या Centrol processing

Unit कहा जाता है तथा Input Devices तथा output Devices को User से Interact करने के कार्य में Use किया जाता है l Input Devices द्वारा जहां User Raw Date को Computer तक पहुंचाता है l

वहीं Output Devices के द्वारा Computer processed Information को User तक पहुंचता है l

Central processing Unit:C.P.U.

Central processing Unit ही वास्तव में किसी भी Computer का मुख्य होता है l इसे किसी भी Computer system का दिमाग भी कहा जा सकता है l संक्षेप में अक्सर Central processing Unit को C. P.U.भी कहा

जाता है l अक्सर हम निम्न चित्र में प्रदर्शित Box को ही C.P.U. के नाम से पुकारते हैं, परन्तु यह गलत है l

निम्न Boxs को हम system Unit के नाम से जानते हैं l आदि उसके अन्दर Computer के अन्य भाग जैसे Mother

Board RAM Hard disk आदि properly Assembled होते हैं तो अन्यथा यह सिर्फ एक Cabinate ही होता है l

Computer में होने वाले सभी कार्य C.P,U, द्धारा ही Control होते हैं इसलिए इसे Computer का दिमाग कहा जाता है,

C.P.U. डर असल तीन मुख्य एवं महत्वपूर्ण भागों से मिलकर बनता है जो कि निम्नलिखित हैं,

Memory Unit Arithmetic and Logic unit Control unit l

Memory Unit process के लिए जो भी Data या programs Computer में आते हैं उन सभी को Main Memory

ही store करती है l इस Memory Unit का महत्त्व इसी बात से स्पष्ट हो जाता है कि यदि Memory Unit न हो तो

Computer को दिया जाने वाला कोई भी Data तुरन्त नष्ट हो जायेगा और Process की प्रक्रिया रुक जायेगी अत यह कंप्यूटर का एक बुनियादी घटक हैं l Arithmetic and Logic unit Arithmetic and Logic unit जिसे संक्षेप

में A,L,U, भी कहा जाता है l C,P,U, के लिए सभी प्रकार की Arithmetic operation जैसे कि जोड़ना घटना गुणा करना तथा भाग करना आदी और Logical operation जैसे दो संख्याओं में छोटी और बड़ी संख्याओं की तुलना करना अर्थात ये

देखना कि संख्याएं बराबर है अथवा उनमें से कौन सी संख्या छोटी है अथवा बड़ी आदि के लिए जिम्मेदार होता है, इसमें सारी

सारी कियाएं Binary System में होती हैं l Control unit Control unit का प्रमुख कार्य वास्तव में Computer के

विभिन्न अवयवों को Control करना होता है l यह Computer के भागों पर नजर रखता है, अत यह C,P,U, का एक

बहुत ही महत्वपूर्ण भाग होता है तथा इसका कार्य Computer के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है l

Computer के सभी भागों में तालमेल बनाकर programe को ठीक प्रकार से Execute कराने के लिए यही Unit जिम्मेदारी है l

Input Output Devices

कंप्यूटर में यदि User का सीधा सम्बन्ध किसी चीज से होता है l तो वह है,Input Output Devices अत Input तथा

तथा output Devices का Computer system में एक महत्वपूर्ण स्थान है l Input Devices के माध्यम है ही

User Computer system में process करने के लिए Raw Date को Enter करवाता है, तथा Output Devices

की मदद से वह Useful and processed Information प्राप्त करता है l process के लिए जिम्मेदार Computer

के अन्य अन्य भागों को जैसे C,P,U,RAM Hard disk atc, का User से कोई भी Direct Interaction न होने की

वजह से यूजर को इस बात से कोई मतलब नहीं होता कि process कहां और कैसे हों रहा है l

उसे तो बस Input देने और Output प्राप्त करने से ही मतलब होता है अत Input और output Devices न सिर्फ

CCC syllabus

computer के लिए बल्कि User के लिए भी एक महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं l संक्षेप में Input Devices का कार्य

User Readable form में Date lo ग्रहण करना होता है, तथा उसके बाद याह Data Computer software तथा

CPU, आदि की मदद से Computer Readable form में process हुए Data को यूजर Readable form में

Convert करके monitor जैसी output Devices की मैड से उसे Use के सामने प्रस्तुत करता है l

CCC computer course syllabus in Hindi आधुनिक Computer में key board Mouse MICR,OCR

OMR, Stick, Light, pen आदि Input Devices Use की जा रही है, तथा Monitor printer plotter speaker आदि को output Devices के रुप में उपयोग किया जा रहा है l

सीसीसी फुलफॉर्म

Input Unit Computer को जिन यत्रों के द्वारा Data अर्थात आंकड़े शब्द या निर्देश दिए जाते हैं, वह यन्त्र lnput Devices कहलाते हैं l कुछ lnput Devices निम्न प्रकार है, की बोर्ड key board माउस mouse ट्रैक बाल Track Ball

जन्यासिक joystick स्कैनर scanner बारकोड रीडर Barcode Reader ऑप्टिकल करेक्टर रीडर optical Character

Reader OCR ऑप्टिकल करेक्टर रीडर optical Character Reader OMR चुंबकीय इक करैकटर रीडर Magnetic lnk Character Reader OMR लाइट पेन Ligh pen टच स्क्रीन Touch screen वेब कैमरा web Camera ,

माइक्रोफोन Microphone वाइस रिकांगनैजा इजर voice Recognizer कि मबैल टैग रीडर kimbal Tag Reader l

की बोर्ड key board की बोर्ड को कंप्यूटर की इनपुट डिवाइस कहा जाता है l की बोर्ड में सारे अक्षर टाइपराइटर की तरह क्रम

में होते हैं, परन्तु इसमें टाइपराइटर से ज्यादा बटन होते हैं l इसमें कुछ फक्शन बटन होते हैं l जिन्हें बार बार किए जाने वाले

कार्यों के लिए पुर्व निर्धारित किया जा सकता है l जैसे f 1बटन को साहायता Help के लिए प्रोग्राम किया जाता है l

की बोर्ड कंप्यूटर से जोड़b ने के लिए एक विषेश जगह port बनी होती है l वर्तमान में USB की बोर्ड आते हैं, जो कंप्यूटर के

USB की बोर्ड आते हैं, जी कंप्यूटर के USB पोर्ट में लग जाते हैं l कुछ वायरले की बोर्ड भी आते हैं जिन्हें सिस्टम से जोड़ने की जरूरत नहीं होती है l की बोर्ड में पांच प्रकार के की key होते हैं l

अल्फाबेट कीज Alphabet keya की बोर्ड में 26(अल्फाबेट कीज keys A से तक होते हैं, जिनका उपयोग कर हम किसी भी टेक्स्ट Text को लिख सकते हैं l फंक्शन कीज Function keys ये की बोर्ड सबसे ऊपर स्थित होते हैं l इन बटनों पर F/1/से

F/12/अकीत होते हैं l इनका use बार बार जाने वाले कार्य के लिए पहले से निर्धारित रहता है l इसके उपयोग से समय की

बचत होती है l कर्सर कंट्रोल कीज Cursor Control keys इन keys का उपयोग स्क्रीन पर कर्सर को कहीं भी ले जाने के

लिए होता है l वे चार भिन्न दिशाओं को इंगित करते हैं, जिन्हें चार तीर के निशान से दर्शाया रहता है l इस ऐसे को Arrow key

भी कहा जाता है l इसे दायां Right बयां Left ऊपर UP/तथा नीचे Down एरो की कहते हैं l इनके ठीक ऊपर को नियंत्रित

करने के लिए चार और बटन होते हैं, जिन्हें होम एण्ड पेज अप और पेज डाउन कहते हैं l CCC computer course

होम Home कर्सर को लाइन के आरम्भ में ले जाता है l एंड End कर्सर को लाइन के अन्त में ले जाता है l

पेज अप page UP कर्सर को एक अगले पेज पीछे या पिछले पेज मे ले जाता हैं l

Leave a Comment